Sports Culture Will Increase Among Children, Youth Club Will Be There In Every Village – Sports : 1100 नर्सरियां जमीनी स्तर पर बदलेंगी खेलों की सूरत

Trends

ख़बर सुनें

चंडीगढ़। हरियाणा में 1100 खेल नर्सरियां स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इससे जमीनी स्तर पर खेलों की सूरत बदलेगी। बच्चों में खेल संस्कृति बढ़ाने के उद्देश्य से नर्सरियां स्थापित करने का फैसला लिया गया है। 500 नर्सरियां विभागीय प्रशिक्षण केंद्रों पर और 600 सरकारी-निजी शिक्षण संस्थानों, निजी खेल अकादमियों, निजी खेल प्रशिक्षण केंद्रों में स्थापित की जा रही हैं। हर गांव में एक-एक युवा कल्ब स्थापित करने काम चल रहा है। अब तक 4912 गांवों में युवा क्लबों का गठन किया गया है। 4 एससी खिलाड़ी खेल छात्रावास स्थापित किए जा रहे हैं। अंबाला मे खेल छात्रावास का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है। हिसार, सिरसा और फतेहाबाद में खेल छात्रावास का निर्माण कार्य चल रहा है।
हरियाणा का दूसरा नाम मेडल की खान : मनोहर लाल
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि आज हरियाणा का दूसरा नाम मेडल की खान बन चुका है। प्रदेश के खिलाड़ी लगातार ओलंपिक व अन्य अंतरराष्ट्रीय खेल स्पर्धाओं में पदक जीत कर भारत का नाम रोशन कर रहे हैं। हरियाणा खिलाड़ियों को सर्वाधिक नकद पुरस्कार दे रहा है। तैयारियों के लिए पांच लाख रुपये अग्रिम राशि देने से खिलाड़ियों का मनोबल और बढ़ा है। सरकार ने अर्जुन, द्रोणाचार्य और ध्यानचंद अवार्डी का मानदेय 5000 रुपये से बढ़ाकर 20 हजार रुपये मासिक कर दिया है।
तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहसिक पुरस्कार विजेताओं को 20,000 रुपये व भीम अवार्ड विजेताओं को 5000 रुपये मासिक मानदेय देने की शुरुआत की गई है। भारत के 1.3 प्रतिशत क्षेत्रफल और 2.09 प्रतिशत आबादी वाले हरियाणा का ओलंपिक खेलों में 50 प्रतिशत से अधिक मेडल लाने का योगदान रहा है।

चंडीगढ़। हरियाणा में 1100 खेल नर्सरियां स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इससे जमीनी स्तर पर खेलों की सूरत बदलेगी। बच्चों में खेल संस्कृति बढ़ाने के उद्देश्य से नर्सरियां स्थापित करने का फैसला लिया गया है। 500 नर्सरियां विभागीय प्रशिक्षण केंद्रों पर और 600 सरकारी-निजी शिक्षण संस्थानों, निजी खेल अकादमियों, निजी खेल प्रशिक्षण केंद्रों में स्थापित की जा रही हैं। हर गांव में एक-एक युवा कल्ब स्थापित करने काम चल रहा है। अब तक 4912 गांवों में युवा क्लबों का गठन किया गया है। 4 एससी खिलाड़ी खेल छात्रावास स्थापित किए जा रहे हैं। अंबाला मे खेल छात्रावास का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है। हिसार, सिरसा और फतेहाबाद में खेल छात्रावास का निर्माण कार्य चल रहा है।

हरियाणा का दूसरा नाम मेडल की खान : मनोहर लाल

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि आज हरियाणा का दूसरा नाम मेडल की खान बन चुका है। प्रदेश के खिलाड़ी लगातार ओलंपिक व अन्य अंतरराष्ट्रीय खेल स्पर्धाओं में पदक जीत कर भारत का नाम रोशन कर रहे हैं। हरियाणा खिलाड़ियों को सर्वाधिक नकद पुरस्कार दे रहा है। तैयारियों के लिए पांच लाख रुपये अग्रिम राशि देने से खिलाड़ियों का मनोबल और बढ़ा है। सरकार ने अर्जुन, द्रोणाचार्य और ध्यानचंद अवार्डी का मानदेय 5000 रुपये से बढ़ाकर 20 हजार रुपये मासिक कर दिया है।

तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहसिक पुरस्कार विजेताओं को 20,000 रुपये व भीम अवार्ड विजेताओं को 5000 रुपये मासिक मानदेय देने की शुरुआत की गई है। भारत के 1.3 प्रतिशत क्षेत्रफल और 2.09 प्रतिशत आबादी वाले हरियाणा का ओलंपिक खेलों में 50 प्रतिशत से अधिक मेडल लाने का योगदान रहा है।

https://www.amarujala.com/haryana/panchkula/sports-culture-will-increase-among-children-youth-club-will-be-there-in-every-village-panchkula-news-pkl463273839