Bhimrao Ambedkar Quotes: आज भी लाखों युवाओं की जिंदगी बदल रहे बाबा साहेब के ये 10 विचार – ambedkar jayanti 2022 know dr bhimrao ambedkar quotes in hindi

Trends

अंबेडकर जयंती (Ambedkar Jayanti 2022) हर साल 14 अप्रैल को मनाई जाती है। भीमराव अंबेडकर (Bhimrao Ambedkar) की जयंती को भारत में समानता दिवस और ज्ञान दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को ब्रिटिश कोलंबिया, कनाडा में ‘अंबेडकर समानता दिवस’ के रूप में भी मनाया जाता है। डॉ भीमराव आम्बेडकर जिन्हें डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर (Dr. Baba Saheb Ambedkar) के नाम से भी जाना जाता है, का जन्म दिन 14 को 1891 को मध्य प्रदेश के महू में हुआ था।

भारत के सबसे प्रमुख समाज सुधारकों में से एक, अंबेडकर को भारत की जाति व्यवस्था द्वारा उत्पन्न असमानताओं के खिलाफ उनकी लड़ाई के लिए जाना जाता है। एक दलित परिवार में जन्मे, अंबेडकर अपने समुदाय के शोषण और भेदभाव को देखते हुए बड़े हुए, जिससे उन्हें समानता के लिए आजीवन धर्मयुद्ध शुरू करने के लिए प्रेरणा मिली।

बाबा साहेब की पहचान एक न्यायविद, अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ और समाज सुधारक के रूप में रही हैं। वह संविधान निर्माता और आजाद भारत के पहले कानून मंत्री थे। देश के लिए किए गए उनके योगदान को लेकर हर साल उनकी जयंती मनाई जाती है।

अंबेडकर के विचारों ने लाखों युवाओं को प्रेरित किया और उनके विचारों पर चलकर कई युवाओं की जिंदगी बदल गई। आज बाबा साहेब की जयंती के मौके पर हम उनके 10 विचार लेकर आए हैं जो जिंदगी के हर कठिन क्षण में आपको प्रेरित करेंगे..

डॉ भीमराव अंबेडकर के विचार (Dr. Bhimrao Ambedkar Quotes)

1. “मुझे वह धर्म पसंद है जो स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व सिखाता है।”

2. “मैं एक समुदाय की प्रगति को उस डिग्री से मापता हूं जो महिलाओं ने हासिल की है।”

3. “वे इतिहास नहीं बना सकते जो इतिहास को भूल जाते हैं।”

4. “शिक्षित बनो, संगठित रहो और उत्तेजित बनो।”–

5. “धर्म मनुष्य के लिए है न कि मनुष्य धर्म के लिए।”

6. “मनुष्य नश्वर है, उसी तरह विचार भी नश्वर हैं। एक विचार को प्रचार-प्रसार की जरूरत होती है, जैसे कि एक पौधे को पानी की, नहीं तो दोनों मुरझाकर मर जाते हैं।”

7. “एक महान आदमी एक प्रतिष्ठित आदमी से इस तरह से अलग होता है कि वह समाज का नौकर बनने को तैयार रहता है।”

8. “समानता एक कल्पना हो सकती है, लेकिन फिर भी इसे एक गवर्निंग सिद्धांत रूप में स्वीकार करना होगा।”

9. “बुद्धि का विकास मानव के अस्तित्व का अंतिम लक्ष्य होना चाहिए।”

10. “मानता एक कल्पना हो सकती है, लेकिन फिर भी इसे एक गवर्निंग सिद्धांत रूप में स्वीकार करना होगा।”

Governor vs Lieutenant Governor Difference: क्या आप जानते हैं राज्‍यपाल – उपराज्‍यपाल में अंतर?

https://navbharattimes.indiatimes.com/education/education-news/ambedkar-jayanti-2022-know-dr-bhimrao-ambedkar-quotes-in-hindi/articleshow/90816744.cms